2019-04-09
A | A- | A+    

Business Wire


थॉटस्पॉट ने एआई और एमएल प्लैटफॉर्म के विकास को गति देने के लिए भारत में $25 मिलियन के निवेश की घोषणा की

ThoughtSpot (11:07AM) 

Business Wire India

कृत्रिम बुद्धिमत्ता और मशीन की शिक्षा दुनिया भर में हरेक उद्योग और हरेक कारोबार में बदलाव ला रही है। थॉटस्पॉट (ThoughtSpot) ने आज बैंगलोर, भारत स्थित अपने इंजीनियरिंग सेंटर में $25 मिलियन के निवेश की घोषणा की। धन का उपयोग कंपनी के उद्योग में अग्रणी सर्च और एआई आधारित एनालिटिक्स प्लैटफॉर्म को नया करने तथा शिखर के भारतीय विश्वविद्यालयों से प्रतिभा की नियुक्ति के लिए किया जाएगा। थॉटस्पॉट भारत में कारोबारी परिचालनों की भी शुरुआत करेगा ताकि पूरे क्षेत्र में एंटरप्राइजेज के लिए ऑगमेंटेड एनालिटिक्स ला सके।

भारत में एआई का भविष्य तैयार करना

एनालिटिक्स और एआई पेशेवरों के लिए भारत एक अहम अंतरराष्ट्रीय केंद्र बन गया है। इस उद्योग की कंपनियों को अच्छा-खासा मुहैया कराता है ताकि वे यहां की प्रतिभाओं का लाभ उठाएं और नवीनता की रफ्तार के साथ बढ़ सकें। नई फंडिंग से थॉटस्पॉट तेजी से बढ़ते बैंगलोर स्थित अपने एआई इंजीनियरिंग सेंटर (AI engineering center) का विस्तार कर पाएगा ताकि कंपनी के उद्योग में अग्रणी एनालिटिक्स और एआई प्लैटफॉर्म पर काम किया जा सके। ये टीम सीधे सनीवेल और सिएटल स्थित अनुसंधान और विकास (आरएंडडी) केंद्र से गठजोड़ करेंगी और दुनिया भर में फैली थॉटस्पॉट की इंजीनियरिंग टीम के भाग के रूप में काम करेगी। इसके अलावा, थॉटस्पॉट नई फंडिंग को आगे बढ़ाएगी ताकि बैंगलोर में पूरी तरह तैयार प्रोडक्ट टीम बनाई जा सके। इनमें प्रोडक्ट मैनेजर, इंजीनियर और डिजाइनर सब होंगे। कंपनी नए निवेश का उपयोग इस पूरे क्षेत्र में शिखर के विश्वविद्यालयों से तकनीकी और इंजीनियरिंग प्रतिभाओं को काम पर रखना जारी रखने के लिए करेगी।

भारतीय उपक्रमों के लिए थॉटस्पॉट लाना

इंजीनियरिंग सेंटर में निवेश के साथ-साथ थॉटस्पॉट भारत में अपने कारोबारी परिचालनों की भी शुरुआत करेगा। इसके जरिए अंतरराष्ट्रीय ग्राहकों के साथ-साथ भारतीय आधार वाले उपक्रमों की भी सेवा की जाएगी। इसके लिए भारत में डाटा एनालिटिक्स और इंजीनियरिंग टीम होगी। इस समय, भारत में 10 में से एक ओपन डाटा साइंस और मशीन लर्निंग के काम पाए जा सकते हैं। इससे पता चलता है कि जानकारी और तकनीकी पेशेवरों की मांग और पूर्ति में कितना अंतर है।

थॉटस्पॉट अपनी टेक्नालॉजी साझेदारी के जरिए बाजार में लाएगी। इसके लिए यह भारत में मौजूद ग्लोबल सिस्टम्स इंटीग्रेटर के शक्तिशाली इकोसिस्टम इंटीग्रेटर के साथ साझेदारी करेगा। कारोबार अपने फ्रंटलाइन कर्मचारियों को स्वयं डाटा आधारित जानकारी तलाशने की योग्यता से युक्त कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें एक सामान्य नेचुरल लैंग्वेज सर्च का उपयोग करना होता है या थॉटस्पॉट के एआई इंजन, स्पॉटआईक्यू का उपयोग करके ऐसे सवालों के जवाब तलाशने होते हैं जो वे खुद भी नहीं जानते कि पूछे जा सकते हैं। इससे फ्रंटलाइन कर्मचारियों के लिए ना सिर्फ निर्णय लेना बेहतर होता है और उनकी दक्षता बढ़ती है बल्कि डाटा टैलेंट के लिए समय होता है कि रणनीतिक, दीर्घ अवधि की डाटा पहल पर काम कर सके।

टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज में एनालिटिक्स एंड इनसाइट्स के वाइस प्रेसिडेंट और ग्लोबल प्रमुख, दीनानाथ खोलकर ने कहा, “जब हम जाटा केंद्रित पहल को अपने बिजनेस 4.0टीएम थॉट लीडरशिप ढांचे के साथ अपने एंटरप्राइज ग्राहकों के बीच आगे बढ़ा रहे हैं ताकि कारोबारी विकास को गति दी जा सके और बदलाव हो तो हम चाहते हैं कि प्रत्येक निर्णय लेने वाले के पास जानकारी हो।” उन्होंने आगे कहा, “थॉटस्पॉट के साथ साझेदारी करके हम पूरे भारत और दुनिया भर में कारोबारों के लिए सर्च और एआई-संचालित एनालिटिक्स की शक्ति ला सकेंगे। इस तरह, हरेक निर्णय लेने वाले को यह योग्यता मिलेगी कि काररवाई योग्य जानकारी तलाश सकें और बेहतर निर्णय करें जिससे कारोबार के नतीजे आगे बढ़ें।”

शिखर के विचार

सुधीश नायर ने कहा, “एक ऐसी जगह जो कृत्रिम बुद्धिमत्ता और मशीन लर्निंग की तरह तेजी से उभर रहा, वहां एंटरप्राइज ग्राहकों की आवश्यकताओं के साथ चलने का एक ही तरीका है कि बेजोड़ प्रतिभाओं को नियुक्त किया जाए जो शीघ्रता से नवीनता ला सकें।” उन्होंने आगे कहा, “नए निवेश से हम ना सिर्फ देश भर से ऐसी प्रतिभाओं के साथ अपनी टीम बढ़ा सकेंगे बल्कि साथ-साथ भारतीय उपक्रमों के अपने मंच को पहली बार एक समर्पित स्थानीय टीम के साथ पेश करेंगे।”

थॉटस्पॉट के वीपी और इंडिया इंजीनियरिंग के प्रमुख पुनीत अग्रवाल ने कहा, “गुजरे दो वर्षों से बैंगलोर इंजीनियरिंग सेंटर हमारे प्रमुख अनुसंधान और विकास केंद्रों में से एक बन गया है जो सनीवेल और सिएटल स्थित हमारी टीम के साथ मिलकर काम करता है ताकि टेक्नालॉजी के जरिए एक ऐसी दुनिया बने जो ज्यादा तथ्यों से संचालित हो।” उन्होंने आगे कहा, “हम उत्पाद, इंजीनियरिंग और डिजाइन में सर्वश्रेष्ठ और सबसे प्रतिभाशाली लोगों की तलाश में हैं जो हमारे ग्राहकों को वास्तविक वास्तविक मूल्य देने के मामले में हमारी तरह जुनूनी हों और साथ ही दुनिया को कृत्रिम बुद्धिमत्ता, वितरित प्रणाली, डाटाबेस और यूआई / यूएक्स से बेहतर कर सकें।”

थॉटस्पॉट के एपीजे के वीपी सुनील महाले ने कहा, “आज की खबर से मैं बेहद उत्साहित हूं। निवेश से ना सिर्फ थॉटस्पॉट को हमारे ग्राहकों तक नवीनताएं पहले के मुकाबले ज्यादा शीघ्रता से लाने में मदद मिलेगी बल्कि भारत में पहली बार हमारे पास एक समर्पित कारोबारी टीम होगी जो सर्च और एआई आधारित एनालिटिक्स को देश भर के उपक्रमों में ले आएगी।” उन्होंने आगे कहा, “अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने वाले उपक्रमों को अपने संस्थान को बेहतर ढंग की सुविधाओं से युक्त करने की आवश्यकता होती है और इसमें काम करने के तरीके में बदलाव लाने के लिए जानकारी की भी जरूरत होती है। एक समर्पित स्थानीय टीम और साझेदारों तथा एसआई के बढ़ते इकोसिस्टम के साथ हम अच्छी स्थिति में हैं और उन्हें इस बदलाव में सहायता करने के लिए तैयार हैं।”

कारोबारी गति जारी

अपने पूरे पिछले वित्त वर्ष में थॉटस्पॉट ने कारोबार के सभी प्रमुख क्षेत्रों में प्रगति की है, जैसे :

उत्पाद और साझेदार विस्तार : गुजरे 12 महीनों में थॉटस्पॉट ने बाजार को नई नवीनताएं दी हैं। इनमें सर्च आईक्यू, प्रीडिक्टिव एनालिसिस और मशीन लर्निंग के साथ ध्वनि आधारित एनालिटिक्स (voice-driven analytics) शामिल है और यह डाटारोबोट (DataRobot) तथा एलटेरिक्स (Alteryx) के साथ गूगल क्लाउड प्लैटफॉर्म के संग (partnership with Google Cloud Platform) मल्टी क्लाउड एनालिटिक्स के जरिए साझेदारी में है।
बढ़ती एक्जीक्यूटिव टीम : सिंडी हाउसन हाल में (recently joined) थॉटस्पॉट से जुड़े हैं और चीफ डाटा स्ट्रेटजी ऑफिसर हैं जबकि मारता मोलिना पॉल ने ग्लोबल पीपल ऑपरेशंस के वीपी के रूप में काम संभाला है।
बाजार और उद्योग की मान्यता हासिल करना : अग्रणी कारोबारी और टेक्नालॉजी संगठनों ने थॉटस्पॉट के योगदान को पहचान लिया है और इसमें दुनिया जिस ढंग से डाटा का उपयोग करती है उसके तरीके को बदल दिया है। इनमें गार्टनर शामिल है जिसने थॉटस्पॉट को एनालिटिक्स और बीआई प्लैटफॉर्म के लिए मैजिक क्वाडरैन्ट (Leader in the Magic Quadrant for Analytics & BI Platforms) में लीडर घोषित किया। फोर्ब्स ने थॉटस्पॉट को 100 सबसे महत्वपूर्ण क्लाउड कंपनियों में से एक (most important cloud companies) घोषित किया जबकि वर्ल्ड इकनोमिक फोरम ने थॉटस्पॉट को टेक्नालॉजी के क्षेत्र (Technology Pioneer) में अग्रणी घषित किया।

थॉटस्पॉट के बारे में

दुनिया के सबसे अभिनव उपक्रम थॉटस्पॉट का उपयोग अपने संस्थान के प्रत्येक व्यक्ति का सशक्तिकरण करने के लिए करते हैं। इनमें सी-सुइट एक्जीक्यूटिव से लेकर फ्रंट लाइन कर्मचारी तक सब शामिल हैं। इन्हें डाटा आधारित इनसाइट का शीघ्रता से पता लगाने के योग्य बनाया जाता है। थॉट स्पॉट से कारोबारी लोग सामान्य गूगल जैसा सर्च टाइप करके तत्काल डाटा की अरबों पंक्ति का विश्लेषण कर सकते हैं और कृत्रिम बुद्धिमत्ता को आग बढ़ा सकते हैं ताकि उनपर भरोसा किया जा सके। उन्हें भेजी जाने वाली संबंधित जानकारियां हजारों ऐसे सवालों का जवाब होती हैं जिन्हें पूछने के बारे में उन्होंने सोचा भी नहीं होगा। किसी भी कारोबारी व्यक्ति के इस्तेमाल के लिए थॉटस्पॉट काफी सरल है। इसके साथ ही यह शक्तिशाली भी है और इतना कि सबसे बड़े, मुश्किल एंटरप्राइज डाटा को भी हैंडल करने में भी ना स्पीड से कोई समझौता करना पड़ता है और ना सुरक्षा या शासन से। इसीलिए, 7-11, बीटी, सेलीब्रिटी क्रूजेज डैमलर, डी बीयर्स, हुलु मियामी, चिल्ड्रेन्स हेल्थ सिस्टम, नेशनवाइड बिल्डिंग सोसाइटी और स्कोटियाबैंक ने निर्णय लेने की अपनी संस्कृति को बदलने के लिए थॉटस्पॉट का सहारा लिया है। जानकारियों को प्रत्येक चर्चा और निर्णय का भाग बनाकर थॉटस्पॉट तथ्य आधारित विश्व बनाने में डाटा की भूमिका की पुनर्कल्पना कर रहा है। अतिरिक्त जानकारी के लिए कृपया www.thoughtspot.com. पर आइए।

स्रोत रूपांतर businesswire.com : https://www.businesswire.com/news/home/20190408005217/en/ पर देखें।
 
संपर्क :
रेयान मैटिसन
press@thoughtspot.com

घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है।

India, Karnataka, Bangalore