2018-09-22
A | A- | A+    

Business Wire


बीजेडी को एक और मौका नहीं देगी जनता: डेलीहंट सर्वे

Dailyhunt (5:56PM) 

Business Wire India
2019 में लोकसभा चुनावों के तुरंत बाद ओडिशा में चुनावी सरगर्मियां तेज़ हो जायेंगी। देश में मोदी का जादू चले न चले लेकिन ओडिशा में नवीन पटनायक की कुर्सी जाना लगभग तय है। यूं कहिये कि कुर्सी अभी से हिलने लगी है। यह हम नहीं कह रहे हैं, बल्कि डेलीहंट के द्वारा कराये गये चुनावी सर्वे में यह बात निकल कर सामने आयी है। जनता ने नवीन पटनायक को दोबारा मुख्‍यमंत्री चुनने की बात को सिरे से खारिज कर दिया है।
 
मंत्री चुनने की बात को सिरे से खारिज कर डेलीहंट ऐप के माधयम से करवाये गये इस सवेर्क्षण में पांच दिन (15 सितम्बर से 20 सितम्बर 2018) में 50,156 लोगों ने हिस्सा लिया। हमारे इस सर्वे में पांच सवाल पूछे गए हैं। जिनके जवाब जानने के बाद ओडिशा में उभरता नया राजनीितक आइना आपको दिखाई देने लगेगा। लेकिन इस आइने में नवीन पटनायक का चेहरा थोड़ा धुंधला दिखाई देगा क्यूँकि उनकी जगह धर्मेंद्र प्रधान की तस्वीर साफ झलक रही है।

बात अगर महागठबंधन की करें तो 35% लोगों ने कहा कि भाजपा को हराने के लिए ओडिशा में भी महागठबंधन बनेगा, जबिक 65% लोग ऐसा नहीं मानते हैं। क्या अगले निर्वाचिन में ओडिशा में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जादू चलेगा? इस पर 61 प्रतिशत लोगों ने कहा हां, जबिक 39 प्रतिशत ऐसा लोग मानते ओडिशा में मोदी का जादू नहीं चलने वाला।

सर्वे में हमने पूछा क्या अगले चुनाव में जनता ओडिशा का मुख्यमंत्री बदल देगी? इस पर 62 प्रतिशत लोगों ने हां कहा जबिक 38 प्रतिशत लोगों का जवाब नहीं था।

अगले विधानसभा चुनावों में बीजू जनता दल यानी बीजेडी को एक और मौका दिया जाना चाहिए या नहीं, इस पर केवल 37% लोगों ने ही सहमित जताई। जबिक 63% लोगों का मानना है कि बीजेडी को फिर से सत्ता में आना चािहये।

धर्मेंद्र प्रधान की तस्वीर उभरी

हमने पूछा कि ओडिशा में नवीन पटनायक के विकल्प कौन हो सकते हैं? इस पर 56% लोगों ने केंद्रीय मंत्री व ओडिशा से भाजपा के वरिष्‍ठ नेता धर्मेंद्र प्रधान का नाम लिया। वहीं 23% लोगों ने पूर्व सांसद जय पांडा और 21% लोगों ने ओडिशा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष निरंजन पटनायक के नाम पर क्लिक किया।

स्रोत: https://hindi.oneindia.com/news/india/modi-magic-set-to-dethrone-bjd-odisha-dailyhunt-survey-473883.html
डेलीहंट के विषय में

डेलीहंट भारत का नंबर 1 समाचार और स्थानीय भाषा में कंटेट देने वाला एप्लीकेशन है। डेलीहंट 227 मिलियन से अधिक ऐप पर 14 भाषाओं में एक लाख से ज्यादा आर्टिकल हर रोज एक हजार से ज्यादा पब्लिकेशन सहयोगियों की मदद से देता है। हमारा उद्देश्य एक अरब भारतीयों को एक इंडिक प्लेटफॉर्म देना है, जो उनको मनोरंजन और सूचनाओं के जरिए बेहतर कटेंट दे और उन्हें सशक्त बनाए। डेलीहंट ग्रुप में 125 मिलियन से ज्यादा यूजर्स हैं जो 7 बिलियन मिनट हर महीने एप पर गुजारते हैं। यह टेक्नालॉजी के बारे में जानने की भी एक यूनिक मशीन है जो यूजर्स के कटेंट पर गुजारे समय पर्सन्लाइज्ड कंटेट और नोटिफिकेशन के बारे में बताती है। डेलीहंट एप एंड्रोइड, आईओएस और विंडो प्लेटफॉर्म्स पर उपलब्ध है। साथ ही ये मोबाइल वेब पर भी उपलब्ध है। डेलीहंट के निवेशकों में मैट्रिक्स पार्टनर्स इंडिया, सेक्वॉया, ओमिडयार नेटवर्क, फाल्कन एज और बाइटडांस शामिल हैं। डेलीहंट की वेबसाइट www.dailyhunt.in पर जाकर अधिक जानकारी ली जा सकती है। हमारा मुख्य कार्यालय बेंगलुरू में है, वहीं मुंबई और गुड़गांव में भी कार्यालय हैं।

India, Orissa, Anugul