2018-07-18
A | A- | A+    

Business Wire


एपीओ ने सदस्‍य देशों को भविष्‍य के लिए तैयार के लिए रणनीतिक दूरदर्शिता-आधारित दृष्टिकोण को अपनाया

Asian Productivity Organization (11:20AM) 

Business Wire India
समग्र सामाजिक आर्थिक विकास के लिये उद्योग, कृषि, जन और सेवा क्षेत्रों में सदस्‍य देशों को डिजिटल तकनीकों को अपनाने में सक्षम बनाने के लिये एशियन प्रोडक्टिविटी ऑर्ग्‍नाइजेशन (एपीओ) द्वारा एक रणनीतिक दूरदर्शिता आधारित नजरिये और तरीकों को शामिल किया जा रहा है, ताकि भविष्‍य के लिये तैयार दक्षताओं और राष्‍ट्रीय उत्‍पादकता ढ़ांचों का विकास करने में मदद की जा सके।
 
इस प्रेस विज्ञप्ति में मल्‍टीमीडिया की सुविधा है। पूरी विज्ञप्ति यहां देखें: https://www.businesswire.com/news/home/20180711005920/en/
APO Secretary-General Dr. Santhi Kanoktanaporn delivering welcome remarks at the Sustainable Productivity Summit 2018 in Tokyo, 10 July 2018. (Photo: Business Wire)

एपीओ महासचिव डॉ. सैंथी कनोकटैनापोर्न 10 जुलाई 2018 को सस्‍टैनेबल प्रोडक्टिविटी समिट में स्‍वागत भाषण देते हुये। (फोटो : बिजनेस वायर)
 
पहले एपीओ सस्‍टैनेबल प्रोडक्टिविटी समिट में महासचिव डॉ. सैंथी कनोकटैनापोर्न ने बताया कि आर्थिक एवं तकनीकी परिवर्तनों को बढ़ाने से कई वैश्विक चुनौतियां उत्‍पन्‍न हुई हैं। इनमें जलवायु परिवर्तन से लेकर आहार, ऊर्जा, जल, वित्‍तीय बाजारों और वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था में उभरते संकट तक शामिल हैं। उन्‍होंने आगे कहा, ''इसी के साथ, ये बदलाव अधिकतर दुनिया का विकास एवं समृद्धि लेकर भी आये हैं। नये आइडियाज, तकनीकों और वृद्धि को अभिप्रेरित करने वाले कौशल के रूप में उत्‍पादकता इस परिवर्तन की कहानी का केन्‍द्र रहा है। उत्‍पादकता भविष्‍य में वृद्धि का प्रमुख इंजन भी बनी रहेगी।''
महासचिव ने बताया कि एपीओ ने भविष्‍य की टीम तैयार की है और उभरते वैश्विक रूझानों को और ऐसी पहलों को विकसित करने के अभिप्रेरक बलों को पहचानने के लिये आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआइ) का इस्‍तेमाल कर रही है, जो न सिर्फ पारंपरिक उत्‍पादकता को बढ़ावा दें, बल्कि स्‍थायित्‍वपूर्ण उत्‍पादकता को भी प्रोत्‍साहित करें। डॉ. सैंथी ने चेतावनी दी कि, ''सरकार में शामिल निर्णय लेने वालों और कॉर्पोरेट लीडर्स, ने बिजनेस-एज-युजुअल अप्रोच को अपनाते हैं जिससे जोखिम को पीछे छोड़ दिया जाता है। हम सिर्फ वर्तमान मॉडल पर भरोसा नहीं कर सकते और यह अपेक्षा नहीं रख सकते हैं कि ये दशकों तक प्रासंगिक बने रहेंगे।''
 
अपने उद्घाटन भाषण में जापान के विदेशी मामलों के मंत्रालय के इंटरनेशनल कॉर्पोरेशन ब्‍यूरो के डॉ. मिनोरू मसुजिमा ने बताया कि इंटरनेट ऑफ थिंग्‍स, बिग डेटा, रोबोटिक्‍स एवं एआइ के विकास ने खोजपरक व्‍यावसायों एवं सेवाओं का निर्माण कर सामाजिक मुद्दों का समाधान किया है। ''इस तरह के नवाचार न सिर्फ क्षमता को बढ़ाने और श्रम की बचत करने में योगदान करते हैं, बल्कि सोसायटी 5.0 में बिल्‍कुल नये मूल्‍यों का निर्माण कर उत्‍पादकता को संभावित रूप से बढ़ाते हैं।
 
प्रमुख संबोधन देते हुये डेलोईट सेंटर फॉर गवर्मेंट के कार्यकारी निदेशक विलियम डी. एगर्स ने इस बात पर जोर दिया कि यदि राष्‍ट्र की उत्‍पादकता की बात करें, तो सुशासन काफी मायने रखता है। उन्‍होंने कहा, ''यह या तो इसे रोक सकता है अथवा उसे बढ़ाने में मदद कर सकता है।'' उन्‍होंने आगे कहा, ''घातीय तकनीकों के जमाने में सरकार को इसके बीच के बढ़ते अंतर को खत्‍म करने की जरूरत है कि निजी क्षेत्र किस तरह से इन तकनीकों को अपना रहे हैं और काम को बदल रहे हैं तथा सार्वजनिक क्षेत्र अब किस तरह परिचालन कर रहे हैं।''
 
उन्‍होंने यह बात कहते हुये अपना संबोधन खत्‍म किया कि, ''दुनिया भर में सरकारें इस बात से जूझ रहीं हैं कि एआइ, ड्रोन और स्‍वचालित वाहनों जैसी तकनीकों को किस तरह संचालित किया जाये, जिससे लोगों की सुरक्षा हो, लेकिल कंपनियां नवाचार करने में सक्षम बन सकें। तकनीकी की प्रगति किस तरह से होगी, इस पर सरकार इन तकनीकों को किस तरह अपनाती है, का बड़ा प्रभाव पड़ेगा।
 
एपीओ सस्‍टैनेबल प्रोडक्टिविटी समिट के बाद एक दो-दिवसीय रणनीतिक नियोजन कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें एपीओ के निदेशकों और नेशनल प्रोडक्टिविटी ऑर्ग्‍नाइजेशन्‍स के प्रमुखों ने विशिष्‍ट जरूरतों की समीक्षा की और भावी विकास कार्यक्रमों की रूपरेखा तैयार की।
 
समिट के वक्‍ताओं में शामिल थे – रेयान जैनझेन, सह-संस्‍थापक और मुख्‍य तकनीकी अधिकारी, ट्रांसपोड इंक., उभरती तकनीकों जैसे कि हाइपरलून और ट्यूब ट्रांसपोर्ट के प्रभाव पर; डॉ. निकलेस आरविडसन, एसोसिएट प्रोफेसर, डिपार्टमेंट ऑफ इंडस्ट्रियल इकोनॉमिक्‍स एवं मैनेजमेंट, केटीएच रॉयल इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी, नकदहीन समाज के विकास में प्रमुख कारकों पर; एंड्रु ड्ब्‍ल्‍यू ब्रेनटैनो, मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी, टिनी फॉमर्स इंक, पारंपरिक फसलों और प्रथाओं के वैकल्पिक विकल्‍पों पर; और ताकेशी आराकावा, एसएसटी मैनेजमेंट टीम मैनेजर, बिजनेस सॉल्‍यूशन डिविजन, पैनासोनिक कॉर्पोरेशन, सस्‍टेनेबल स्‍मार्ट टाऊन्‍स और स्‍मार्ट होम्‍स पर।
 
businesswire.com पर सोर्स विवरण देखें:
https://www.businesswire.com/news/home/20180711005920/en/
 
मल्‍टीमीडिया उपलब्‍ध है:
https://www.businesswire.com/news/home/20180711005920/en/
 
सम्‍पर्क:
विस्‍तृत सम्‍पर्क के लिये:
एशियन प्रोडक्टिविटी ऑर्ग्‍नाइजेशन
शुभेन्‍दु पार्थ/योको फुजिमोटो, +81-3-3830-0411
सूचना एवं जन संपर्क इकाई
sparth@apo-tokyo.org / yfujimoto@apo-tokyo.org
मोबाइल: +81-80-4154-7818
फैक्‍स: +81-3-5840-5322 

घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है।

Japan, TOKYO