2018-03-23
A | A- | A+    

Business Wire


बीआइआरएसी और पर्किनएल्‍मर ने भारत प्रवर्तित स्‍टार्टअप्‍स और नवाचारों को बढ़ावा देने के लिए आशय पत्र पर हस्‍ताक्षर किये

PerkinElmer, Inc. (5:47PM) 

Business Wire India

बायोटेक्‍नोलॉजी इंडस्‍ट्री रिसर्च असिस्‍टेंस काउंसिल (बीआइआरएसी) ने मंगलवार को नई दिल्‍ली में अपना छठा स्‍थापना दिवस मनाया। इस कार्यक्रम का मुख्‍य विषय था “नवाचारको बरकरार रखना: बाजार संचालित मार्ग” जिसकी अध्‍यक्षता माननीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी एवं भू विज्ञान राज्‍य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन, प्रोफेसर आशुतोष शर्मा, सचिव, बायोटेक्‍नोलॉजी विभाग (डीबीटी) और डॉ. रेणु स्‍वरूप, वरिष्‍ठ सलाहकार, डीबीटी एवं एमडी, बीआइआरएसी, भारत सरकार द्वारा की गई। इसमें देश-विदेश से वैज्ञानिक एवं उद्योग क्षेत्रों के कई पदाधिकारी भारी संख्‍या में शामिल हुये।

स्‍थापना दिवस के दौरान, बीआइआरएसी और पर्किनएल्‍मर, इंक. , ने पांच साल की साझेदारी के लिए चिन्हित क्षेत्रों पर साथ काम करने के लिए आशय पत्र पर हस्‍ताक्षर किये। इसके तहत बायोमेडिकल, बायोटेक्‍नोलॉजी और सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य के क्षेत्रों में भारत प्रवर्तित स्‍टार्टअप्‍स और इनोवेटर्स को बढ़ावा देना है। 

स्‍कॉट पालूबायक, उपाध्‍यक्ष, बाजार विकास, पर्किनएल्‍मर ने कहा, “सहयोग का लक्ष्‍य भारत प्रवर्तित नवाचारों एवं स्‍टार्टअप्‍स के पोर्टफोलियो को बढ़ावा देना है। यह एक स्‍वस्‍थ दुनिया के लिए नवाचार करने हेतु पर्किनएल्‍मर के मिशन के अनुरूप है। भविष्‍य में, पर्किनएल्‍मर भारत में निवेश करना जारी रखेगा और तकनीक नवाचारों एवं उन्‍नत समाधानों में सरकारी पहलों में समर्थन देगा जोकि पर्यावरण, हमारे खाने की सुरक्षा और माताओं एवं उनके नवजात बच्‍चों के स्‍वास्‍थ्‍य की सुरक्षा में मदद करेंगे।”

डॉ. रेणु स्‍वरूप, वरिष्‍ठ सलाहकार, डीबीटी और प्रबंध निदेशक, बीआइआरएसी ने कहा, “बीआइआरएसी अलग-अलग चरणों में उद्मियों एवं स्‍टार्टअप्‍स को- विचारों के चरण से लेकर इंटेलेक्‍चुअल प्रॉपर्टी अधिकारों को प्रबंधित करने और अंत में उत्‍पादों के व्‍यावसायीकरण तक सहयोग देता है। पर्किनएल्‍मर के साथ यह सहयोग व्‍यावसायीकरण सक्षम बनाने में हमारे फोकस को प्रदर्शित करती है और भारतीय उपक्रमों की वैश्विक प्रतिस्‍पर्धात्‍मकता सुनिश्चित करती है। यह प्रयास घरेलू और वैश्विक बाजारों में खोजपरक युक्ति से लेकर रोजगार निर्माण और सृजन और उत्‍पाद व्‍यावसायीकरण तक एक संपूर्ण पारितंत्र विकसित करने में मदद करता है।”

जयश्री ठाकर, अध्‍यक्ष, पर्किनएल्‍मर इंडिया ने कहा, “पर्किनएल्‍मर भारत में स्‍वास्‍थ्‍यसेवा की चुनौतियों से निपटने के लिए खोजपरक तकनीकों को विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। यह निरोधात्‍मक से लेकर उन्‍नत स्‍वास्‍थ्‍यसेवा तक पारितंत्र को पूरा करते हैं। इस साझेदारी के जरिये विकसित उत्‍पाद एवं समाधान न सिर्फ ‘मेक इन इंडिया’, ‘स्किल इंडिया एंड एंटरप्रेन्‍योरशिप’ के राष्‍ट्रीय प्रयासों में योगदान करेंगे, बल्कि ‘गो टु ग्‍लोबल’ बाजार अवसरों को भी बढ़ावा देते हैं।”

आशय पत्र पर डॉ. रेणु स्‍वरूप, वरिष्‍ठ सलाहकार,डीबीटी एवं प्रबंध निदेशक, बीआइआरएसी और डॉ. प्रहलाद सिंह, वरिष्‍ठ उपाध्‍यक्ष, पर्किनएल्‍मर ने हस्‍ताक्षर किये।

बीआइआरएसी के विषय में
बायोटेक्‍नोलॉजी इंडस्‍ट्री रिसर्च असिस्‍टेंस काउंसिल (बीआइआरएसी),सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, जिसकी स्‍थापना बायोटेक्‍नोलॉजी विभाग (डीबीटी),विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय,भारत सरकार द्वारा की गई थी। यह एक उद्योग-शिक्षण इंटरफेस एजेंसी है जोकि राष्‍ट्रीय स्‍तर के प्रासंगिक उत्‍पाद विकास जरूरतों से निपटने के लिए रणनीतिक शोध एवं नवाचार करने के लिए उभरते बायोटेक उपक्रमों को सहयोग करता है। पांच वर्षों के कोर्स के जरिये, बीआइआरएसी देशभर में 1000 से अधिक स्‍टार्टअप्‍स, उद्यमियों, बायोटेक कंपनियों और संस्‍थानों और 30 इनक्‍यूबेटर्स को सपोर्ट करता है। जोकि 100 से अधिक उत्‍पादों एवं तकनीकों और इंटेलेक्‍चुअल प्रॉपर्टी अधिकार निधि में परिणीत होते हैं और लगभग 200 पेटेंट जनरेट किये गये हैं। अतिरिक्‍त जानकारी http://www.birac.nic.in/ पर उपलब्‍ध है।

पर्किनएल्‍मर के विषय में
पर्किनएल्‍मर, इंक. वैश्विक अग्रणी है जोकि स्‍वस्‍थ दुनिया के लिए नवाचार करने के लिए प्रतिबद्ध है। दुनियाभर में 11,000 कर्मचारियों की हमारी समर्पित टीम ग्राहकों को बेमिसाल अनुभव प्रदान करने के लिए जोश से भरी हुई है। हमारी टीम महत्‍वपूर्ण मुद्दों को हल करने में मदद करती है और यह खासतौर से डायग्‍नोस्टिक्‍स, डिस्‍कवरीऔर एनालिटिकल समाधान बाजारों को प्रभावित करती है। हमारा खोजपरक पहचान, इमेजिंग, इनफॉर्मेक्टिस, और सेवा सामर्थ्‍य, गहन बाजार ज्ञान एवं विशेषज्ञता के संयोजन के साथ ग्राहकों को पहले एवं अधिक सटीक जानकारी प्राप्‍त करने में मदद करता है और हमारी दुनिया में रहने वाले लोगों की जिंदगी सुधारता है। कंपनी ने 2017में 2.3 अरब डॉलर का राजस्‍व अर्जित कियाथा, यह 150 से अधिक देशों में ग्रहकों को सेवायें देता है और एसएंडपी 500 इंडेक्‍स का घटक है। अतिरिक्‍त जानकारी 1-877-पीकेआइ-एनवाईएसई, अथवा www.perkinelmer.com पर उपलब्‍ध है।

businesswire.com पर सोर्स विवरण देखें: https://www.businesswire.com/news/home/20180320006446/en/
 
संपर्क
पर्किनएल्‍मर इंक.
रुचि सोगरवाल, +91 7838065587
Ruchi.Sogarwal@perkinelmer.com
अथवा
बायोटेक्‍नोलॉजी इंडस्‍ट्री रिसर्च असिस्‍टेंस काउंसिल (बीआइआरएसी)
मनीष दीवान, +91 9871290710
sped.birac@gov.in 

घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है।

India, Delhi, New Delhi

विशेष

और भी है

सदस्यता लें

IANS Photo