2018-03-05
A | A- | A+    

Business Wire


लाइकक्वायन ने कंटेंट क्रिएटर्स के लिए नया ब्लॉकचेन-आधारित इकोसिस्टम ऐक्टिवेट करने के लिए पहले 30,000 टोकन जारी किए

LikeCoin (12:46PM) 

Business Wire India

लाइकक्वायन ने एक सफल रेड पैकेट प्रोग्राम, जिसमें हांग कांग, ताईवान और दक्षिणपूर्व एशियाई देशों के 2,000 से ज्यादा लोगों ने त्यौहारी खुशियों के भाग के रूप में नए बने लाइकक्वायन प्राप्त किए थे, के बाद आज चीनी नव वर्ष की अवधि में 30,000 से ज्यादा नए टोकन जारी करने की घोषणा की। 

रेड पैकेट कैमपेन फ्रीलांस फोटोग्राफर्स, कलाकारों और डिजाइनर्स के लिए एक डिजिटल  लाइकक्वायन को नया डिजिटल करंसी तैयार करने और एक अभिनव ब्लॉक चेन आधारित इकोसिस्टम का विकास करने के इसके मिशन में सहायता पहुंचाता है जो दुनिया भर के कंटेंट क्रिएटर्स को पुरस्कृत करता है। फरवरी में चीनी नए साल की अवधि के दौरान किट मैन, होरीयूकेन और यैनस्क्वैयर समेत कंटेंट क्रिएटर्स ने अपने कार्यों के लिए लाइकक्वायन प्राप्त किए और इस तरह रचनात्मकता को समान ढंग से प्रोत्साहन देने में लाइकक्वायन प्लैटफॉर्म के प्रभावी होने का प्रदर्शन किया गया।   

लाइकक्वायन के संस्थापक किन को ने कहा, “ब्लॉकचेन टेक्नालॉजी की शक्ति को आगे बढ़ाते हुए लाइक्कवायन दुनिया भर के कलाकारों के रचनात्मक आउटपुट को टोकेनाइज कर देगा क्योंकि इनक काम की तारीफ होती है और साझा किया जाता है। रचनात्मकता और रीवार्ड को लंबे समय तक अलग कर दिया गया है और लाइकक्वायन को इस तरह डिजाइन किया गया है कि मौजूदा कमजोरियों को ठीक किया जाए और बेहतर रचनात्मकता को नए आकार की उद्योग पारिस्थितिकी में प्रोत्साहन दिया जाए।”

हांग कांग, ताईवान, मलेशिया और सिंगापुर में रेड पैकेट अभियान के दौरान नए बने लाइकक्वायन्स पाने वाले अपने ईथेरियम ईआरसी-20 आधारित टोकेन को अपने पास रखने या उनके निर्धारित कलाकार और कंटेंट तैयार करने वाले को उनकी कृतियों इनमें फोटोग्राफ, ग्राफिक डिजाइन और वीडियो शामिल हैं के मद्देनजर ट्रांसफर करने के लिए स्वतंत्र हैं।

लाइकक्वायन सभी रचनात्मक सामग्रियों के लिए अनूठे फिंगर प्रिंट तैयार करता है और सभी डिराइवेटिव कार्यों के लिए सामग्री के रचनाकारों और वितरकों के साथ फुटप्रिंट ट्रैक करता है।  अंतरराष्ट्रीय विकेंद्रित और लचीली आईपीएफएस आधारित टेक्नालॉजी से शक्ति पाने वाली लाइकक्वायन के स्वामित्व वाले लाइक बटन और लाइक रैंक एल्गोरिथ्म से कंटेंट का भिन्न मंच और एपलीकेशन पर बंटवारा और गठजोड़ संभव करते हैं। इससे कंटेंट तैयार करने वालों को सामग्री तैयार करने और अपनाने वालों को इन्हें आकार देने और ब्लॉकचेन में डाटा रिकार्ड करने में मदद मिलती है ताकि अन्य वितरक इसका उपयोग कर सकें।

लाइकक्वायन इकोसिस्टम कई फॉर्मैट्स में रचनात्मक सामग्री को सपोर्ट करेगा। इनमें फोटो, इलस्ट्रेशन, वीडियो और आलेख शामिल है। मुमकिन है, मूल सामग्री का वितरण कंटेंट वितरकों द्वारा सीधे या संशोधित तौर पर किया जाए और डिराइवेटिव कार्य तैयार हो जिसे उपयोग के लिए एडॉप्टर्स द्वारा अपना लिया जाए। लाइकक्वायन सिस्टम में मूल रचनाकार और कंटेंट एडैप्टर संभावित तौर पर दर्शकों से लाइकक्वायन प्राप्त करते हैं जो उनके अपने सेवाप्रदाताओं के लिए कंटेंट एडॉप्टर्स तथा और आगे कंटेंट वितरकों से होता है। लाइकक्वायन की अनूठी प्रूफ ऑफ क्रिएटिविटी व्यवस्था और ब्लॉकचेन स्मार्ट कांट्रैक्ट के बारे में जाना जाता है कि रचनाकारों को संवेदनशील बनाते हैं और इससे इको सिस्टम में वितरण प्लैटफॉर्म तथा सेवा प्रदाताओं द्वारा विस्तृत रूप से अपनाए जाने में मदद मिल स​कती है।  
 
लाइकक्वायन के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए

लाइकक्वायन स्टोर पर साइन अप करें : likecoin.store
लाइकक्वायन फेसबुक ग्रुप से जुड़ें: fb.com/groups/likecoin
लाइ क्वायन टेलीग्राम ग्रुप से : t.me/likecoin

लाइकक्वायन के बारे में

लाइकक्वायन का लक्ष्य “लाइक” की खोज नए सिरे से करना है। इसके लिए रचनात्मकता और पुरस्कार में नए सिरे से तालमेल करना होगा। हम रचनात्मक सामग्री का बंटवारा और परस्पर इस्तेमाल के साथ गठजोड़ संभव करते हैं। नए सिरे से तलाशे गए लाइक बटन और अपने अनूठे लाइकरैंक एल्गोरिद्म से हम कंटेंट फुटप्रिंट का पता लगाते हैं और रचनाकारों को रचनात्मकता की सबूत व्यवस्था से पुरस्कृत करते हैं। 

बिजनेस वायर डॉट कॉम businesswire.com पर स्रोत रूपांतर करें : http://www.businesswire.com/cgi-bin/mmg.cgi?eid=51767287&lang=en
 
संपर्क :
एएनएक्स डिजिटल
फेओब पून
anxdigital.pr@anxintl.com

घोषणा (अस्वीकरण): इस घोषणा की मूलस्रोत भाषा का यह आधिकारिक, अधिकृत रूपांतर है। अनुवाद सिर्फ सुविधा के लिए मुहैया कराए जाते हैं और उनका स्रोत भाषा के आलेख से संदर्भ लिया जा सकता है और यह आलेख का एकमात्र रूप है जिसका कानूनी प्रभाव हो सकता है।

Hong Kong, Wan Chai