2017-12-21
A | A- | A+    

Business Wire


एंट्यूट ने साइफर्मा की पेशकश की, एक साइबरसुरक्षा विभाग जो एआइ-संचालित थ्रेट इंटेलीजेंस प्रदान करेगा

Antuit (3:50PM) 

Business Wire India

एंट्यूट होल्डिंग्‍स प्राइवेटलिमिटेड (“एंट्यूट”), गोल्‍डमैन सैश द्वारा समर्थित वैश्विक एनालिटिक्‍स कंपनी, ने आज अपने नये साइबरसुरक्षा विभाग साइफर्मा के शुभारंभ की घोषणा की है।
 
अपने बिग डेटा एनालिटिक्‍स स्‍पेश्‍यलिटी के सबसे उल्‍लेखनीय अनुप्रयोगों में से एक साइबरसुरक्षा है, इस बात को पहचानकर, एंट्यूट ने 2016 की शुरुआत में इस क्षेत्र में विस्‍तार किया था। साइफर्मा बाजार-अग्रणी साइबरथ्रेट विजिबिलिटी उत्‍पादों एवं सेवाओं की पेशकश करता है और इसका निर्माण एंट्यूट के साइबरसुरक्षा समाधानों के लिए तेजी से बढ़ रही मांग के मद्देनजर किया गया था।
 
आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआइ) और मशीन लर्निंग से सुसज्जित, साइफर्मा का प्रमुख मंच उभरते साइबरथ्रेट्स,हमले के उद्देश्‍य और विधियों व्‍यापक, वास्‍तविक समय की जानकारी प्रदान करता है- यह विशिष्‍ट रूप से ग्राहक के उद्योग एवं आइटी परिवेश के अनुकूल होती है। साइफर्मा का थ्रेट इंटेलीजेंस अनुमान संभावित उल्‍लंघनों को होने से पहले अनुमान लगाता है और उन्‍हें सिमुलेट करता है। इस तरह इन्‍होंने 2017 में ग्राहकों को वैन्‍नाक्राई, पेटया, बैड रैबिट और अन्‍य महत्‍वपूर्ण साइबरउल्‍लंघनों से बचाने में समर्थ किया।
 
शियोंग टैन, एंट्यूट के सीओओ और नये विभाग के सह-संस्‍थापक एवं प्रमुख ने कहा, “साइफर्मा कंपनियों को उनके सुरक्षा पोश्‍चर को इष्‍टतम करने में मदद करता है और अक्‍सर सीमित सुरक्षा संसाधनों, प्रतिभा और पूंजी को बेहतर ढंग से संचित करता है। बाजार का दर्द अब कार्यात्‍मक सुरक्षा पोश्‍चर के निर्माण से हटकर इसे अमीर, निरंतर विकसित हो रहे दुश्‍मनों के खिलाफ बरकरार रखने की तरफ चला गया है। साइफर्मा के उत्‍पाद और सेवायें सुरक्षा जोखिम को उल्‍लेखनीय ढंग से कम करते हैं और समग्र सुरक्षा खर्चमें भी कमी लाते हैं।इस तरह सूचा ग्राहकों को हर दिन उपलब्‍ध होती है और वे सुरक्षा सुशासन एवं नियंत्रण विन्‍यास को इष्‍टतम कर सकते हैं।”
 
साइफर्मा के उत्‍पादों की मदद से ग्राहक द्वेषपूर्ण थ्रेट ऐक्‍टर्स के साथ बेहतर ढंग से कदमताल कर सकते हैं, उल्‍लंघनों का अनुमान लगा सकते हें और जोखिमों को कम करने के लिए उपायों को प्राथमिकता दे सकते हैं। साइफर्मा के सह-संस्‍थापक एवं सीटीओ कुमार रितेश ने कहा, “साइबरथ्रेट जांच और विश्‍लेषण में लगभग 20 वर्षों की संलग्‍नता के दौरान, मैंने कभी भी हमलों के प्रकारों एवं स्‍तर में इतनी तेजी से बढ़ोतरी और उन्‍नति को नहीं देखा है, जितना कि पिछले कुछ सालों से देखने को मिला है।”
 
रितेश ने कहा, “साइबर जोखिम को असरदार तरीके से प्रबंधित करने के लिए, संस्‍थानों के पास कोई विकल्‍प नहीं होता बल्कि उन्‍हें अपने विरुद्ध खड़े साइबर अपराधियों को पूरी तरह से समझना होता है। एक कंपनी की समग्र साइबरसुरक्षा –जिसमें इसका रणनीतिक प्रबंधनऔर तकनीकी परतें भी शामिल हैं, के लिए प्रासंगिक साइबरथ्रेट इंटेलीजेंस की बेहतर ऐप्‍लीकेशन की अब स्‍पष्‍ट जरूरत है। सिर्फ सुनियोजित सुरक्षा नियंत्रण ही काफी नहीं रह गया है।”
 
साइफर्मा के ग्राहकों ने पहले की तुलना में अपने साइबर “दुश्‍मनों” के बारे में समझ का गहरा स्‍तर प्राप्‍त किया। टैन ने बताया, “साइफर्मा एंट्यूट की एनालिटिक्‍स विशेषज्ञता का एक सहज विस्‍तार है और हमें इस नये विभाग को शुरु करके खुशी हो रही है।”
 
साइफर्मा के विषय में
साइफर्मा संस्‍थानों को वास्‍तविक समय में थ्रेटइंटेलीजेंस की आपूर्ति कर साइबर हमलों के विरुद्ध बचाती है। यह उन्‍हें अधिक अग्रसक्रिय सुरक्षा दृष्टिकोण अपनाने में सक्षम बनाता है। ओपेन एवं डार्क वेब पर लाखों स्रोतों से जानकारी को एकत्रित कर, उन्‍हें आपस में जोड़कर और उनका विश्‍लेषण कर, साइफर्मा ग्राहकों को यह अनुमान लगाने में सहायता करता है कि किस प्रकार के हमले होने की आशंका सबसे अधिक है और यह सबसे असरदार रिस्‍पांस प्रदान करता है।
 
शियोंग टैन, सह-संस्‍थापक एवं प्रमुख, साइफर्मा एंट्यूट समूह के सीओओ, सीएफओ और बोर्ड निदेशक के रूप में भी सेवायें प्रदान करते हैं। उन्‍होंने एंट्यूट का साइबरसुरक्षा क्षेत्र में सफलतम प्रवेश कराया और कुमार रितेश के साथ मिलकर कंपनी के थ्रेट इंटेलीजेंस मंच को तैयार किया। टैन ने निजी इक्विटी और वेंचर कैपिटल निवेशक के तौर पर निवेश करने और व्‍यावसायों को बदलने में लगभग दो दशक लगाये हैं। वे आर्टिफिशियलइंटेलीजेंस का लाभ उठाने को लेकर बेहद जुनूनी हैं ताकि सभी के लिए एक सुरक्षित डिजिटल भविष्‍य तैयार किया जा सके।
 
सह-संस्‍थापक एवं साइफर्मा के सीटीओ कुमार रितेश दुनिया के पूर्व प्रतिष्ठित साइबरसुरक्षा विशेषज्ञों में से एक हैं। उन्‍हें सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्रों में नेतृत्‍व अनुभव है। उनका सफलतम साइबरसुरक्षा रणनीतियों, उत्‍पादों, नीतियों,मानकों एवं समाधानों को विकसित करने का ट्रैक रिकॉर्ड रहा है। साथ ही वे जटिल आइटीसुरक्षा कार्यक्रम भी चला चुके हैं। पहले रितेश बीएचपी बिलिटन में साइबरसुरक्षा के प्रमुख थे, उन्‍होंने पीडब्‍लूसी, आइबीएम और एक सरकारी इंटेलीजेंस एजेंसी में भी विभिन्‍न तकनीकी एवं परामर्श भूमिकायें निभाई हैं।
 
एंट्यूट के विषय में
एंट्यूट के उन्‍नत एवं एनालिटिक्‍स मंच एवं समाधान दुनिया भर की कंपनियों को मांग का अनुमान लगाने, उन्‍हें आकार देने और पूरा करने में मदद करते हैं। क्षेत्र विशेषज्ञता और प्रॉपरायटरी तकनीकों का संयोजन कर, एंट्यूट राजस्‍व एवं मुनाफे में वृद्धि प्रदान करता है, आपूर्ति श्रृंखला की दक्षता में सुधार करता है और ग्राहकों की संतुष्टि को बढ़ाता है।
 
अधिक जानकारी के लिए देखें- www.antuit.com और हमें फॉलो करें:
लिंक्‍डइन : https://www.linkedin.com/company/antuit/
ट्विटर: https://twitter.com/antuitanalytics
फेसबुक: https://www.facebook.com/Antuit/

businesswire.com पर सोर्स विवरण देखें: http://www.businesswire.com/news/home/20171219005706/en/
 
संपर्क :
एंट्यूट
एरिका सैपरस्‍टीन, 617-477-7538
Erica.saperstein@antuit.com

Singapore, Atlanta

विशेष

और भी है

सदस्यता लें

IANS Photo