2017-02-13
A | A- | A+    

Business Wire


यूईसी ने भारतीय नौसेना के फाइटर्स इंजन के लिए एकीकृत आफ्टर सेल्स सपोर्ट प्रोग्राम का विकास किया है

United Engine Corporation (5:30PM) 

Business Wire India
यूनाइटेड इंजन कॉरपोरेशन (यूईसी, प्रमुख रूसी गैस टरबाइन इंजन विकासकर्ताओं और निर्माताओं की होल्डिंग कंपनी) भारतीय नौसेवा को एमआईजी (मिग)-29के/केयूबी लड़ाकू जेट की शक्ति देने वाले इंजन आरडी-33एमके इंजन के लिए बिक्री के बाद एकीकृत सपोर्ट प्रोग्राम प्रस्तावित करने के लिए तैयार है। नया प्रोग्राम खासतौर से भारतीय आवश्यकताओं के लिए विकसित किया गया है और इसका मतलब है कि यूईसी गारंटी अवधि के बाद भी इंजन के लिए तकनीकी सपोर्ट मुहैया कराता है और यह सभी संभावित विकल्पों के लिए है। 

यूईसी ने 2016 में भारतीय नौसेना के लिए आरडी-33एमके टर्बोफैन इंजन की डिलीवरी पूरी कर ली थी और ठेके की शर्तों को सफलतापूर्वक पूरा कर दिया था।

रसियन यूनाइटेड एयरक्राफ्ट कॉरपोरेशन के साथ संयुक्त कार्य के ढांचे में इस तरह के कार्यक्रम की शुरुआत से भारतीय ग्राहक के अग्रह को प्रोसेस करने के काम में अच्छी-खासी तेजी आएगी और इंजन के उपयोग के दौरान सामने आने वाली किसी भी तकनीकी समस्या का द्रुत समाधान संभव होगा। सपोर्ट प्रोग्राम में शामिल है : तकनीकी रख-रखाव और मरम्मत; सामग्री सपोर्ट; तकनीकी दस्तावेजों की डिलीवरी; कार्मिकों का प्रशिक्षण।24 घंटे काम करने वाले डाटा एक्सचेंज चैनल को दोनों पक्षों के बीच संयोजन को संभव करना चाहिए।

आरडी-33एमके - आफ्टर बर्नर के साथ एक टर्बोफैन इंजन है - यह आरडी-33 का बेहद अपग्रेडेड रूपांतर है। आरडी-33एमके बेसिक मॉडल की तुलना में कुछ ज्यादा जोर देता है जबकि इसमें इसकी सभी खासियतें हैं। यह आधुनिक एफएडीईसी-किस्म की इंजन कंट्रोल प्रणाली है। आधुनिकृत टर्बाइन कूलिंग सिस्टम बहुत लंबी सेवा देती है। आरडी-33एमके के फायदे हैं : निम्न विशिष्ट ईंधन खपत, ऑनबोर्ड हथियारों की फायरिंग समेत तमाम ऑपरेशन मोड में उच्च गैस प्रवाह की स्थिरता और इस तरह विमान का नियंत्रण नाटकीय तौर पर संभव होता है।

इस इंजन से युक्त लड़ाकू जेट सुरक्षित रूप से एयरक्राफ्ट कैरियर डेक से टेकऑफ कर सकता है और गर्म जलवायु में कार्यकुशल ढंग से कौमबैट टास्क पूरा कर सकता है। इंजन की मोडुलर डिजाइन है जिसका मतलब है कि इसके अलग-अलग पुर्जे, यूनिट और मोड्यूल्स कार्यक्षेत्र में ही बदले जा सकते हैं।

आरडी-33एमके इंजन मिग-29के/केयूबी कैरियर आधारित फाइटर तथा मिग-35 4++ पीढ़ी के मल्टी रोल फाइटर में लगा हुआ है।

यूईसी ने 2014 में सैनिक उत्पादन के रख-रखाव से संबंधित स्वतंत्र विदेशी व्यापार गतिविधियों के लिए एफएसएमटीसी (फेड्रल सर्विस फॉर मिलिट्री टेक्निकल कोऑपरेशन ऑफ रसिया) लाइसेंस प्राप्त किया।

यूईसी (यूनाइटेड इंजन कॉरपोरेशन, रोसटेक स्टेट कॉरपोरेशन का भाग) एक एकीकृत संरचना है जो इंजन के विकास, सीरियल उत्पादन, सैनिक और असैनिक उड्डयन के लिए सेवा और सपोर्ट, स्पेस प्रोग्राम और नौसेना एपलीकेशन के साथ-साथ तेल और गैस उद्योग तथा ऊर्जा उत्पादन के लिए सुविज्ञ है।

स्रोत रूपांतर businesswire.com पर देखें : http://www.businesswire.com/cgi-bin/mmg.cgi?eid=51508470&lang=en​

संपर्क :
यूनाइटेड इंजन कॉरपोरेशन
अनसतासिया देनीसोवा
फोन / फैक्स : +7 (499) 558 38 83
press@uecrus.com

India, Karnataka, Bangalore

सदस्यता लें

IANS Photo
  Click here for :