2016-10-08
A | A- | A+    

Business Wire


वाइज़की इंटरनेशनल होल्डिंग भारतीय बाजार में आईओटी और साइबर सुरक्षा के विस्तार के लिए संयुक्त उपक्रम (वाइज़की इंडिया) की स्थापना करेगी, भारतीय निवेशकों के साथ करार किया

WISeKey International Holding Ltd (1:07PM) 

Business Wire India

वाइज़की इंटरनेशनल होल्डिंग लिमिटेड (डब्ल्यूआईएचएन.एसडब्ल्यू) (“विसेके”) और सफल उद्यमियों के एक समूह जिसने भारत और अमेरिका में कई कंपनियां बनाई और बेची हैं ने एलान किया है कि उन्होंने एक संयुक्त उपक्रम की स्थापना के लिए करार (“एमओयू”) पर दस्तखत किए हैं। यह उपक्रम ऊपक्रम भारतीय बाजार में वाइज़की आईओटी और साइबर सुरक्षा प्लैटफॉर्म तैनात करेगा।
 
वाइज़की ने एक करार किया है जिसका नतीजा भारत में वाइज़की साइबर सुरक्षा मंच के लोकलाइजेशन के रूप में सामने आएगा। यह कई बाजारों जैसे आईओटी, साइबर सुरक्षा और ऑबजेक्ट्स के ऑथेन्टीकेशन की सेवा करेगा। इससे भारतीय ग्राहकों - व्यैक्तिक और संगठन दोनों को आईओटी ऑबजेक्ट्स और मोबाइल्स के लिए भरोसेमंद पहचान मिलेगी और वे भरोसा, दूसरों की पहचान और आईओटी संरचना की पहचान के मामले में विश्वास के साथ सिक्योर ऑनलाइन ट्रांसैक्शन कर पाएंगे। ट्रांसैक्शन इन्हीं आईडेंटिटीज पर स्थानीयकृत रूट ऑफ ट्रस्ट (विश्वास की जड़) के जरिए चलते हैं ताकि भारतीय पारिस्थितिकी की सेवा की जा सके। वाइज़की मंच से लाभ प्राप्त करने वाले कुछ वर्गों में दूरसंचार,निर्माण और ई-कामर्स समेत खुदरा बिक्री शामिल हैं।
 
वाइज़की इंडिया संयुक्त उपक्रम की कतिपय शर्तों को अभी सभी पक्षों की अंतिम मंजूरी मिलनी है और उम्मीद की जाती है कि जल्दी ही इस संबंध में फैसला हो जाएगा। संभावना है कि इसकी घोषणा अक्तूबर में इंडियन इकनोमिक समिट में कर दी जाए।
 
वाइज़की इंडिया संयुक्त उपक्रम निगमन और तैनाती में वाइज़की इंडिया के लिए एक पूर्ण रूट ऑफ ट्रस्ट (विश्वास की जड़) तथा पबलिक की इंफ्रास्ट्रक्चर (“पीकेआई”) का विकास शामिल है। इसमें भारत सरकार के अभियान, "डिजिटल इंडिया" के तहत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भरोसेमंद सर्टिफिकेशन अथॉरिटी भी उल्लेखनीय है। "डिजिटल इंडिया" ने कई तरह की पहल की है ताकि देश को ई-रेडी बनाया जा सके। इसके लिए देश भर में कई ई-गवरनेंस इंप्लीमेंटेशन शुरू की गई है। इसमें आयकर, पासपोर्ट, कंपनी कानून, ई प्रापण, बिडिंग आदि शामिल हैं। पबलिक की इंफ्रास्ट्रक्चर ऐसी तमाम पहल की रीढ़ है।  
 
संयुक्त उपक्रम की शर्तों के अनुसार वाइज़की भारत में आईओटी निर्माताओं और चिप बनाने वालों के लिए वाइज़की क्रिप्टोग्राफिक रूट ऑफ ट्रस्ट तैयार करेगा। इससे वे अपने चिप्स में हार्टवेयर के स्तर पर डिजिटल सर्टिफिकेट भी शामिल कर पाएंगे ताकि संचार को एनक्रिप्ट और उपकरण को ऑथेनटीकेट किया जा सके। सेमीकंडक्टर आईओटी चिप्स और एसिमेट्रिक कीज के उपयोग के लिए पहले प्रोजेक्ट का विकास चल रहा है ताकि देश में तैनात किए जाने वाले उत्पादों की बड़ी संख्या को ऑथेन्टीकेट किया जा सके।
 
वाइज़की इस समय बड़े पैमाने पर आईओटी डिजिटल आईडेंटिटीज की तैनाती कर रहा है और ये घड़ियों, सेन्सर, मोबाइल फोन, लैपटॉप और वीयरेबल समेत भिन्न चीजों के लिए हैं और इसके लिए यह अपने क्रिप्टोग्राफिक रूट ऑफ ट्रस्ट तथा वॉल्टआईसी (VaultIC©) सेमीकंडक्टर आईओटी टेक्नालॉजी का उपयोग करेगा। यह भरोसेमंद टेक्नालॉजी वीयरेबल टेक्नालॉजी को एकीकृत करती है और यह सुरक्षित ऑथेन्टीकेशन तथा आईडेंटीफिकेशन के साथ भौतिक और वर्चुअल दोनों माहौल में होता है तथा आईओटी और वीयरेबल उपकरण इस योग्य हो जाते हैं कि सुरक्षित ट्रांसैक्शनल (लेने-देने करने वाले) उपकरण बन सकें। वाइज़की ने इस प्रक्रिया को अमेरिका में पेटेंट करा लिया है। इस समय कई आईओटी प्रदाता इसका उपयोग कर रहे हैं। (अतिरिक्त जानकारी के लिए निम्न लिंक पर जाइए :
http://patft.uspto.gov/netacgi/nph-Parser?Sect1=PTO2&Sect2=HITOFF&p=1&u=%2Fnetahtml%2FPTO%2Fsearch-bool.html&r=1&f=G&l=50&co1=AND&d=PTXT&s1=wisekey&OS=wisekey&RS=wisekey).
 
रूट ऑफ ट्रस्ट (“आरओटी”) एक कॉमन ट्रस्ट एंकर का काम करता है जिसे ऑपरेटिंग सिस्टम (“ओएस”) और एपलीकेशन से मान्यता मिलती है ताकि ऑनलाइन ट्रांसैक्शन की प्रामाणिकता, गोपनीयता और ईमानदारी सुनिश्चित की जा सके। उपकरण में एम्बेडेड क्रिप्टोग्राफिक रूट ऑफ ट्रस्ट से आईओटी उत्पाद निर्माता कोड साइनिंग प्रमाणपत्रों तथा क्लाउड आधारित दस्तखत का उपयोग एक ऐसी सेवा के रूप में कर सकेंगे जो ऑबजेक्ट्स और ऑबजेक्ट्स व जनता के बीच सुरक्षित इंटरैक्शन हासिल कर सकें।
 
इस रणनीति के केंद्र में ओआईएसटीई - वाइज़की क्रिप्टोग्राफिक रूट ऑफ ट्रस्ट है जिसका 1999 से 2.6 बिलियन डेस्कटॉप, ब्राउजर, मोबाइल उपकरण, एसएसएल सर्टिफिकेट और इंटरनेट ऑफ थिंग्स डिवाइसेज द्वारा सक्रियता से उपयोग किया गया है। ओआईएसटीई - वाइज़की क्रिप्टोग्राफिक रूट ऑफ ट्रस्ट सर्वज्ञात और व्यापक है तथा ऑबजेक्ट्स की पहचान में अग्रणी है।
 
अनुमान है कि अगले पांच वर्षों के दौरान दुनिया भर में वीयरेबल बाजार 35% वार्षिक की दर से बढ़ेगा। कनेक्टेड उपकरणों की संख्या में द्रुत वृद्धि के कारण लोग मौजूदा परंपरागत मोबाइल भुगतान के तरीकों से बेहद सुरक्षित सौदों की ओर जा रहे हैं। अब पहनने योग्य उपकरण भरोसेमंद संचार और ऑथेंटीकेशन टेक्नालॉजी का उपयोग करते हैं। वाइज़की का क्रिप्टोग्राफिक और एनएफसी ट्रस्टेड (NFCTrusted©) टेक्नालॉजी इन वीयरेबल उपकरणों के लिए सुरक्षित ढंग से कनेक्ट होना और सुरक्षित भुगतान तथा अन्य सौदे संभव करती है।
 
वाइज़की इंडिया एक प्राइवेट-लेबल मोबाइल एपलीकेशन और सर्विस प्लैटफॉर्म तैनात करेगा जो नीयर फील्ड कम्युनिकेशन (एनएफसी) पेमेंट फंक्शन, प्रीपेड सेवा क्षमता, ई कूपन, लक्षित प्रचार के साथ-साथ निजी डाटा तक उपयोगकर्ताओं की पहुंच का प्रबंध करेगा।
 
वाइज़की के संस्थापक और सीईओ कार्लोस मोरेरिया ने कहा, “हम इस करार पर दस्तखत करके और वाइज़की इंडिया संयुक्त उपक्रम की स्थापना करके उत्साहित हैं जो देश की आवश्यकता वाले भरोसेमंद आईओटी संरचना की सेवा करेगा। इस तरह, लाखों लोगों को अरबों ऑबजेक्ट्स मुहैया कराए जा सकेंगे जो ऑनलाइन सौदे के दौरान पहचान, प्रमाणीकरण और अधिकृत करने के काम करेंगे। यह सहयोग 2017 तक एक अरब डिजिटल आईडेंटिटी मुहैया कराने की वर्ल्ड इकनोमिक फोरम और क्लिनटन ग्लोबल इनीशिएटिव (http://goo.gl/F0RW3) के प्रति वाइज़की की प्रतिबद्धता के क्रम में है। 
 
भारत और अमेरिका में फॉरच्यून 500 सूची की कंपनियों में तीन सफल एक्जिट वाले सीरियल उद्यमी, गैरी गॉबा जो वाइज़की उत्तरी अमेरिकी के बोर्ड में हैं, ने कहा, “वाइज़की इंडिया द्वारा इंडियन रूट ऑफ ट्रस्ट और पबलिक की इंफ्रास्ट्रक्चर की स्थापना से ऑनलाइन ट्रांसैक्शन के लिए वाइज़की इंडिया व्यक्ति के साथ-साथ संगठनों के आत्मविश्वास में नाटकीय वृद्धि लाएगा।“
 
वाइज़की के बारे में
 
वाइज़की (सिक्स स्विस एक्सचेंज: डब्ल्यूआईएचएन) एक अग्रणी साइबरसुरक्षा कंपनी है जिसका चुनाव एक वर्ल्ड इकनोमिक फोरम ग्लोबल ग्रोथ कंपनी के रूप में हुआ है। इस समय वाइज़की बड़े पैमाने पर इंटरनेट ऑफ थिंग्स (“इंटरनेट ऑफ थिंग्स”) डिजिटल आईडेंटिटी इकोसिस्टम की तैनाती कर रहा है और इस साल दावोस में वर्ल्ड इकनोमिक फोरम में शुरू की गई “चौथी औद्योगिक क्रांति” में अग्रणी हो गया है। वाइज़की का स्विस बैंड क्रिप्टोग्राफिक रूट ऑफ ट्रस्ट (“आरओटी”) वीयरेबल टेक्नालॉजी को फिजिकल और वर्चुअल दोनों माहौल में सिक्योर ऑथेन्टीफिकेशन और आईडेंटीफिकेशन से एकीकृत कर देता है तथा आईओटी और वीयरेबल डिवाइसेज को सुरक्षित ट्रांसैक्शनल उपकरण बनने के लिए सशक्त करता है। आरओटी कॉमन ट्रस्ट एंकर के रूप में काम करता है जिसकी पहचान ऑपरेटिंग सिस्टम और एपलीकेशन करता है ताकि ऑनलाइन ट्रांसैक्शन (लेन-देन) की सत्यता, गोपनीयता और  ईमानदारी सुनिश्चित की जा सके। उपकरण में क्रिप्टोग्राफिक आरओटी एमबेड होने से आईओटी उत्पाद निर्माता कोई साइनिंग प्रमाणपत्रों और क्लाउड आधारित दस्तखत का उपयोग एक ऐसी सर्विस के रूप में कर सकते हैं जिससे ऑबजेक्ट्स के बीच और ऑबजेक्ट्स व लोगों के बीच लेन-देन को सुरक्षित किया जाए।
 
वाइज़की ने अमेरिका में इस प्रक्रिया को पेटेंट कराया है क्योंकि इस समय कई आईओटी प्रदाता इसका उपयोग करते हैं।
 
http://patft.uspto.gov/netacgi/nph-Parser?Sect1=PTO2&Sect2=HITOFF&p=1&u=%2Fnetahtml%2FPTO%2Fsearch-bool.html&r=1&f=G&l=50&co1=AND&d=PTXT&s1=wisekey&OS=wisekey&RS=wisekey).
 
अस्वीकरण :
 
इस विज्ञप्ति में स्पष्ट रूप से या मायने के लिहाज से कुछ भविष्य उन्मुख बयान नजर आ रहे हैं जिसका संबंध वाइज़की इंटरनेशनल होल्डिंग लिमिटेड और इसके कारोबार से है। इस तरह से बयान में कतिपय ज्ञात और अज्ञात जोखिम और अनिश्चितताएं तथा अन्य घटक रहते हैं जिनकी वजह से वाइज़की इंटरनेशनल होल्डिंग लिमिटेड के वास्तविक परिणाम, वित्तीय स्थिति, प्रदर्शन और उपलब्धियां   भविष्य के किसी परिणाम, प्रदर्शन या उपलब्धियों से अलग हो सकता है जो इस तरह के भविष्य उन्मुख बयान से व्यक्त होता हो या समझ में आता हो। वाइज़की इंटरनेशनल होल्डिंग लिमिटेड यह सूचना आज की तारीख के अनुसार मुहैया करा रही है और किसी भी भविष्य उन्मुख सूचना को किसी नई सूचना, भविष्य की घटना या अन्य कारण से उद्यतन करने की कोई जिम्मेदारी नहीं लेती है।
 
यह प्रेस विज्ञप्ति ऑफर टू सेल (बिक्री की पेशकश) या किसी प्रतिभूति को खरीदने या किसी पेशकश के लिए कोई याचना नहीं है और ना ही यह स्विस कोड ऑफ ऑबलीगेशंस की धारा 652ए या धारा 1156 के मायने में प्रोस्पेक्टस पेश करने की तरह है। इसी तरह, सिक्स स्विस एक्सचेंज के लिस्टिंग नियमों के मायने में भी यह ऐसा नहीं है। निवेशकों को वाइज़की और इसकी प्रतिभूतियों के अपने मूल्यांकन पर भरोसा करना चाहिए और इसमें इसकी खासियतें तथा संबंधित जोखिम शामिल हैं। यहां उल्लिखित किसी भी तथ्य को वाइज़की के भविष्य के प्रदर्शन का वादा या प्रतिनिधित्व के रूप में न माना जाए ना ऐसा समझा जाए।   
 
स्रोत रूपांतर businesswire.com पर देखें : http://www.businesswire.com/news/home/20160929006394/en/
 
 
संपर्क :
वाइज़की:
युमना अबिसालेह, +41 22 594 30 40
मार्केटिंग कम्युनिकेशंस
yabisaleh@wisekey.com
या
निवेशक संबंध (निवेशक संबंध)
इ इक्विटी ग्रुप, इंक.
लेना कैटीन, 212 836-9611
lcati@equityny.com

India, Delhi, New Delhi