फीचर


40 फीसदी पुरुष अपनी 'इनफर्टिलिटी' से अनजान (09:25)
नई दिल्ली, 21 सितंबर (आईएएनएस)| कई महिलाओं को स्वाभाविक रूप से गर्भ धारण करने में मुश्किल आती है। यहां तक कि कई परीक्षण रिपोर्ट सामान्य होने के बाद वे स्वाभाविक रूप से गर्भ धारण में असमर्थ रहती हैं। पुरुषों में 'इनफर्टिलिटी' उन प्रमुख कारकों में से एक है।

कूची ग्लोबल का दिल्ली में कार्यक्रम 22 सितंबर को (09:15)
नई दिल्ली, 21 सितंबर (आईएएनएस)| आधुनिक आउटडोर प्लेग्राउंड, आउटडोर फिटनेस जिम और सेफ्टी फ्लोरिंग समाधानों का अग्रणी उत्पादक 'कूची ग्लोबल' नेशनल लैंडस्केप आर्किटेक्चर स्कॉलरशिप प्रोग्राम के दिल्ली चैप्टर का आयोजन 21 सितंबर को कर रहा है। यह एक ऐसा मंच है, जो छात्रों को लैंडस्केप आर्किटेक्चर के क्षेत्र में अपनी क्षमता पहचानने और अकादमिक कामयाबी हासिल करने में सक्षम बनाता है।

विंध्य क्षेत्र में पहाड़ों से गलबहियां करते हैं बादल (With Images) (10:48)
संदीप पौराणिक
अनूपपुर, 16 सितंबर (आईएएनएस)| मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र को यूं तो पिछड़ा इलाका माना जाता है, मगर यह क्षेत्र प्राकृतिक संपदा से भरा पड़ा है। यहां की प्राकृतिक छटा मनभावन होती है। बारिश के मौसम में उमड़ते-घुमड़ते बादल कई बार पहाड़ों से गलबहियां करते नजर आते हैं, जो रोमांचित कर देते हैं।

कवियों को भूखे ही रहना पड़ेगा : भगवान प्रलय (With Images) (08:25)
मनोज पाठक
पटना, 16 सितंबर (आईएएनएस)| अलमस्त और फक्कड़ कवि के रूप में अपनी पहचान बना चुके अंगिका और मैथिली भाषा के जाने माने कवि भगवान प्रलय का मानना है कि आज के संदर्भ में साहित्य लिखने वाला व्यक्ति अगर लिखने की आदत बना लेगा तो उसे भूखे ही रहना पड़ेगा।

जब हमारे अयूब ने उनके अयूब को दी थी मात (पुण्यतिथि पर विशेष) (19:04)
रमेश सर्राफ धमोरा
झुंझुनू,(राजस्थान), 15 सितंबर (आईएएनएस)| वर्ष 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध को दोनों सेनाओं के टैंकों की लड़ाइयों के लिए भी याद किया जाता है। उस समय पाकिस्तान को अपने पैटन टैंकों पर बहुत घमंड था जो उसे अमेरिका से मिले थे। उनके लिए पाकिस्तानी जनरल कहा करते थे कि इन टैंकों का मुकाबला कोई नहीं कर सकता, ये तो अजेय हैं।

दफ्तर को इस तरह बनाएं रचनात्मक (12:49)
नई दिल्ली, 15 सितंबर (आईएएनएस)| दफ्तर ऐसी जगह है जहां आप भले ही दिन का एक तिहाई समय बिताते हों, पर यह वह समय होता है, जब दिमाग ज्यादा सक्रिय रहता है और इसी कारण यह दिनभर का सबसे प्रोडक्टिव समय भी माना जाता है। ऐसे में ऑफिस का इंटीरियर ऐसा होना चाहिए कि कर्मचारियों की प्रोडक्टिविटी बढ़ाने में मदद करे।

शादीशुदा युगल की निश्छल प्रेम कहानी है 'तमन्ना' (पुस्तक-समीक्षा) (With Images) (09:20)
प्रज्ञा कश्यप
नई दिल्ली, 15 सितंबर (आईएएनएस)| दिल्ली में रह रहे दो परिवारों की कहानी 'तमन्ना' यूं तो एक प्रेम कहानी जैसी लगती है, लेकिन वास्तव में यह मेट्रो शहरों की भागमभाग वाली जिंदगी में प्यार, सहारा और खुशी की तमन्ना लिए हर उम्र के शख्स की भावना को शब्दों में गूंथती है।

जहां बेटी की विदाई में रोते हुए गाया जाता है (08:27)
डॉ. बीरबल झा
नई दिल्ली, 15 सितंबर (आईएएनएस)| कई कारणों से मिथिला की संस्कृति त्रेता युग से ही चर्चा में रही है। यह मिथिला की बेटी जगत-जननी सीता का जन्मस्थल है। सीता का दूसरा नाम 'मैथिली' भी है जो वहां की भाषा है, जिसे संविधान की आठवीं अनुसूची में जगह और भारतीय भाषा के रूप में पहचान अटल जी के प्रधानमंत्रित्व कार्यकाल में दी गई।

भारत में गांजा वैध होना चाहिए : उदय चोपड़ा (12:39) IANS Photo Service
मुंबई, 14 सितंबर (आईएएनएस)| अभिनेता उदय चोपड़ा का कहना है कि भारत को गांजा को वैध कर देना चाहिए क्योंकि यह राजस्व का बड़ा स्रोत है और चिकित्सा क्षेत्र मे भी फायदेमंद हैं।

जहां धूमधाम से होती है चांद की पूजा (08:40)
डॉ. बीरबल झा
नई दिल्ली, 12 सितंबर (आईएएनएस)| चौठचंद्र (चौरचन) मिथिला का एक ऐसा त्योहार है, जिसमें चांद की पूजा बड़ी धूमधाम से होती है। मिथिला की संस्कृति में सदियों से प्रकृति संरक्षण और उसके मान-सम्मान को बढ़ावा दिया जाता रहा है।

खेतड़ी नरेश की प्रेरणा से शिकागो गए थे स्वामी विवेकानंद (शिकागो विश्व धर्म सम्मेलन की 125वीं जयंती पर विशेष) (21:12)
रमेश सर्राफ धमोरा
इतिहास में कुछ ऐसे क्षण होते हैं, कुछ ऐसी घटनाएं घटती हैं, जो मनुष्यों की स्मृति में हमेशा के लिए अंकित हो जाती हैं और आने वाली पीढ़ियों के लिए एक महत्वपूर्ण संदेश छोड़ जाती हैं। स्वामी विवेकानंद और खेतड़ी नरेश अजीत सिंह का रिश्ता इसी इतिहास का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और दोस्ती की एक खास मिसाल भी।

पति के दीर्घायु के लिए सुहागिनें करती हैं 'तीज' (17:22)
मनोज पाठक
पटना, 11 सितंबर (आईएएनएस)| यूं तो पति के दीर्घायु होने और उनकी रक्षा के लिए धर्मशास्त्रों में कई व्रत-त्योहारों का जिक्र है, लेकिन इनमें सबसे अधिक महत्ता उत्तर भारत में धूम-धाम से मनाया जाने वाला पावन व्रत 'हरितालिका तीज' की है। यह व्रत सुहागिनें अपने पति की लंबी उम्र के लिए करती हैं।

इंसान की तरह पौधों को भी चाहिए पोषक पदार्थ (With Images) (11:54)
रोबिन एडविन
नई दिल्ली, 11 सितंबर (आईएएनएस)| पौधों के लिए पोषण की जरूरत को समझना थोड़ा मुश्किल है, इसके लिए पौधों, फसलों और खेती के बारे में जानकारी होनी चाहिए। हर पौधे के लिए पोषक पदार्थो की जरूरत अलग होती है जो उसकी संरचना और भौगोलिक जरूरतों पर निर्भर करती है।

नींद में बिस्तर गीला करना गुर्दा रोग का लक्षण (18:39)
नई दिल्ली, 10 सितंबर (आईएएनएस)| हम सभी स्वस्थ और स्वच्छ रहना चाहते हैं। अपने शरीर की बाहरी सफाई का ध्यान तो हम रख लेते हैं, लेकिन शरीर के भीतर की सफाई का काम हमारी किडनी (गुर्दा) संभालता है। यह हमारे शरीर की विषाक्तता और अनावश्यक कचरे को बाहर निकालकर हमें स्वस्थ रहने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

भारत में रूढ़िवादी मान्यताओं को तोड़ रही हिजाब वाली मुस्लिम बॉडीबिल्डर (आईएएनएस विशेष) (18:19) IANS Photo Service
सानू जॉर्ज
वाटकरा (केरल), 9 सितम्बर (आईएएनएस)| जब 23 वर्षीय मजीजिया भानु इस साल की शुरुआत में कोच्चि में मिस्टर केरल प्रतियोगिता के महिला वर्ग में प्रतिस्पर्धा करने के लिए मंच पर उतरीं, तो सभी की निगाहें उन पर ठिठक गईं, क्योंकि इससे पहले लोगों ने किसी बॉडीबिल्डर को हिजाब (मुस्लिम महिलाओं द्वारा सर ढकने वाला स्कार्फ) पहनकर प्रतियोगिता में भाग लेते नहीं देखा था। उन्होंने साबित कर दिखाया कि हिजाब उनके या किसी अन्य महिला के लिए कोई अड़चन नहीं है और वह प्रतियोगिता जीतने के लिए आगे बढ़ीं।

पद से कहीं ऊंचा है कांस्टेबल रंजीता का कद (With Images) (11:39)
मनोज पाठक
मुंगेर (बिहार), 9 सितंबर (आईएएनएस)| आमतौर पर माना जाता है कि किसी भी व्यक्ति की पहचान उसके पद से होती है, मगर बिहार के मुंगेर जिला पुलिस बल की आरक्षी (कांस्टेबल) रंजीता ने इसे गलत साबित कर दिया। रंजीता ने अपनी मेहनत और जज्बे की बदौलत मात्र 32 साल की उम्र में खुद का कद अपने पद से बड़ा कर लिया है।

जहां दही चटाकर विदा करने की है परंपरा (12:38)
डॉ. बीरबल झा
नई दिल्ली, 8 सितंबर (आईएएनएस)| जी! चौंकिए नहीं, अभी-अभी आपने जो शीर्षक पढ़ा है, यह सच है। हम बात कर रहे हैं मिथिला की सांस्कृतिक विरासत के इस खास पहलू पर। यह बात सुनने में बहुत साधारण-सी है, पर इसके भाव बहुत गहरे हैं।

दिल्ली के सरकारी स्कूलों की शिक्षण पद्धति में क्रांतिकारी बदलाव (आईएएनएस विशेष) (16:12) IANS Photo Service
निवेदिता सिंह
नई दिल्ली, 2 सितम्बर (आईएएनएस)|रिक्शाचालक रोशन लाल (40) ने जिस समय दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में अपने बेटे राकेश का दाखिला करवाया था, उस समय उनकी बस एक ही तमन्ना थी -उनके बेटे को अच्छी शिक्षा मिले। मगर वह निजी स्कूल की पढ़ाई का खर्च वहन कर नहीं सकते थे, इसलिए उन्होंने सोचा कि सरकारी स्कूल में आखिर कुछ तो पढ़-लिख लेगा।

जहां दुनिया का महामूर्ख पैदा हुआ (09:31)
डॉ. बीरबल झा
नई दिल्ली, 1 सितंबर (आईएएनएस)| जरा सोचिए, वह आदमी कैसा होगा जो जिस पेड़ की डाल पर बैठा हो उसी को काट रहा हो! भला कोई आदमी ऐसा करेगा? लेकिन किया।

कला क्षेत्र में बिहार का नाम रौशन कर रहीं प्रीति (फोटो सहित) (With Images) (18:49)
मनोज पाठक
पटना, 31 अगस्त (आईएएनएस)| बिहार के सीतामढ़ी जिले के एक पिछड़े गांव बेलाम छपकौनी गांव की रहने वाली प्रीति सुमन आज अपनी बहुमुखी की प्रतिभा से बिहार का नाम रौशन करने में लगी हैं। बहुमुखी प्रतिभा की धनी प्रीति जहां एक तरफ क्लासिकल संगीत में प्रशिक्षित हैं, वहीं दूसरी तरफ लेखन-विद्या में भी माहिर हैं।

प्रकृति के साथ क्रूर हरकतें बढ़ा रही बाढ़ (17:11)
ऋतुपर्ण दवे
पहली तस्वीर, दुनिया में बाढ़ से होने वाली मौतों में 20 फीसदी भारत में होती है। विश्व बैंक ने भी इसे कबूलते हुए चिंता बढ़ा दी है। इससे वर्ष 2050 तक भारत की आधी आबादी के रहन-सहन के स्तर में और गिरावट होगी।

कड़कनाथ से किसानों को दोगुनी आमदनी (फोटो सहित) (With Images) (16:22)
नीरज तिवारी
उत्तर बस्तर, 27 अगस्त (आईएएनएस/वीएनएस)। छत्तीसगढ़ में किसानों की आय दोगुनी करना इन दिनों प्रशासन के लिए कड़ी मेहनत का काम साबित हो रहा है। लेकिन उत्तर बस्तर कहे जाने वाले कांकेर के किसान कड़कनाथ मुर्गी का पालन कर अपनी आमदनी दोगुनी कर रहे हैं। क्षेत्र का कृषि विज्ञान केंद्र भी किसानों के इस काम में भरपूर मदद कर रहा है।

घर के अंदर का वायु प्रदूषण दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा! (17:46)
नई दिल्ली, 26 अगस्त (आईएएनएस)| घर के अंदर का वायु प्रदूषण दूसरा सबसे बड़ा हत्यारा है, जो भारत में हर साल लगभग 13 लाख मौतों का कारण बनता है। यह एक गंभीर स्वास्थ्य जोखिम है, और भारत जैसे देश में, जहां घर के अंदर खाना पकाने से लेकर हानिकारक रसायनों और अन्य सामग्रियों के कारण मकान के अंदर की हवा की गुणवत्ता भी खराब हो जाती है और यह बाहरी वायु प्रदूषण की तुलना में 10 गुना अधिक नुकसान कर सकती है।

स्मार्ट गांव में अशक्तों का सशक्तीकरण (आईएएनएस विशेष) (16:42) IANS Photo Service
अर्चना शर्मा
उदयपुर, 26 अगस्त (आईएएनएस)| राजस्थान में झीलों का शहर उदयपुर के समीप स्थित एक गांव में शारीरिक रूप से अशक्त लोगों को एक नई जिंदगी बसर करने के लिए सशक्त बनाया जा रहा है।

बिहार की बेटी ने बनाई शराब पकड़ने वाली मशीन (With Images) (13:58)
मनोज पाठक
पूर्णिया (बिहार), 26 अगस्त (आईएएनएस)| बिहार में शराबबंदी के बाद यहां के छात्र भी अब सरकार की मदद के लिए आगे आए हैं। इसी क्रम में पूर्णिया की एक बेटी ने ने एक ऐसी मशीन का आविष्कार किया है, जिसके गुणों के बारे में सुनकर आप हैरान रह जाएंगे।