फीचर


स्मार्ट कृषि के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने पेश किया एआई-सेंसर (12:07)
निशांत अरोड़ा
बेंगलुरू, 22 जनवरी (आईएएनएस)| कृषि उत्पादों का दुनिया में सबसे बड़ा उत्पादक चीन आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) की प्रौद्योगिकी के जरिए किसानों को सशक्त बनाने में अग्रणी देश है।

सिंगापुर में केबल कार पर्यटकों के लिए खास आकर्षण (10:14)
नई दिल्ली, 22 जनवरी (आईएएनएस)| दक्षिण पूर्व एशिया के खूबसूरत शहर सिंगापुर में केबल कार पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है, जिसमें उन्हें आसमान से इस द्वीपीय देश का नजारा देखने को मिलता है। सिंगापुर की केबल कार नेटवर्क कंपनी बताती है कि 1974 से आरंभ हुई इस केबल कार सेवा का लुत्फ अब तक करीब पांच करोड़ लोग उठा चुके हैं और सिंगापुर आने वाले पर्यटकों में इसका आकर्षण लगातार बढ़ता जा रहा है।

चंबल में बेटी की अंधियारी जिंदगी में आई 'रौशनी' (फोटो सहित) (With Images) (10:54)
संदीप पौराणिक
भिंड, 20 जनवरी (आईएएनएस)| ग्वालियर-चंबल इलाके की पहचान यूं तो अपराध और दस्यु समस्या के कारण आपराधिक क्षेत्र के तौर पर रही है, मगर यहां नरम दिल और पीड़ितों के मददगार लोगों की संख्या भी कम नहीं है।

बिहार : भितिहरवा में टूट रहे गांधी, कस्तूरबा के सपने (फोटो सहित) (With Images) (08:19)
मनोज पाठक
बेतिया (बिहार), 20 जनवरी (आईएएनएस)| महात्मा गांधी के जन्म के 150वें साल को लेकर केंद्र और राज्य सरकार सहित विभिन्न संस्थाओं द्वारा कई समारोह आयोजित कर उन्हें याद किया जा रहा है और उनके बताए गए रास्ते पर चलने के संकल्प लिए जा रहे हैं। गांधी और कस्तूरबा के सपने मगर यहां टूट रहे हैं।

बिहार नहीं आ पाएंगी आंध्र की मछलियां (09:17)
मनोज पाठक
पटना, 15 जनवरी (आईएएनएस)| बिहार में स्वास्थ्य विभाग ने आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल से आने वाली मछलियों की बिक्री पर रोक लगा दी है। इससे अब यहां के लोग आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल की मछलियों का स्वाद नहीं चख सकेंगे। स्वास्थ्य विभाग जहां इस रोक के पीछे स्वास्थ्य के प्रतिकूल प्रभाव को कारण बता रही है, वहीं मछली व्यापारी सरकार के इस फैसले को लेकर गुस्से में हैं।

मप्र में अब छिंदवाड़ा बन रहा 'प्रशासनिक सर्जरी' का मॉडल! (08:42)
संदीप पौराणिक
भोपाल, 14 जनवरी (आईएएनएस)| मध्य प्रदेश का विधानसभा चुनाव कांग्रेस ने विकास के छिंदवाड़ा मॉडल को आधार बनाकर लड़ा, साथ ही दावा किया कि राज्य के हर जिले का छिंदवाड़ा की तर्ज पर विकास किया जाएगा।

इस स्कूल ने पर्दा प्रथा को दी थी चुनौती (आईएएनएस विशेष) (17:40) IANS Photo Service
अर्चना शर्मा
जयपुर, 13 जनवरी (आईएएनएस)| राजस्थान की राजधानी जयपुर के मध्य स्थित इस 'महारानी गायत्री देवी स्कूल' ने 1943 में एक मूक क्रांति की शुरुआत की थी, जब वह क्षेत्र महिलाओं में पर्दा प्रथा की कुप्रथा में फंसा हुआ था। स्कूल की शुरुआत एक पूर्व रानी ने की थी।

महिलाओं के लिए करियर व सेहत में तालमेल जरूरी (17:39)
अजय कुमार पांडेय
नई दिल्ली, 13 जनवरी (आईएएनएस)| मौजूदा समय में बहुत सारी महिलाएं करियर ओरिएंटेड हो गई हैं। ऐसे में कई स्वास्थ्य संबंधी जिम्मेदारियां पीछे छूटती दिखाई दे रही हैं। करियर के मोर्चे पर महिलाओं का तेजी से उभार जहां एक तरफ अपने पुरुष प्रतिस्पिर्धियों से उन्हें आगे करता है, तो दूसरी तरफ इसका असर महिलाओं की शादी व दूसरी सामाजिक जिम्मेदारियों पर पड़ता है।

इन आसान उपायों से मिटाएं मन की घबराहट (16:23)
नई दिल्ली, 13 जनवरी (आईएएनएस)| घबराहट एक ऐसी मनोदशा है, जिसे मन से निकाल फेंकना बहुत मुश्किल होता है। बेचैनी की इस समस्या से जूझते इंसान की सेहत पर उसके घर की साज-सज्जा का निस्संदेह असर पड़ता है। ऐसे में घर की नई साज-सज्जा से इंसान घबराहट से बच सकता है। घर के भीतर कुछ आकर्षक बदलाव कर घबराहट अपने-आप कम हो सकती है और पीड़ित मानसिक स्तर पर तंदुरुस्त रह सकता है।

भाई अनस के पदचिन्हों पर चलकर आर्टिस्टिक जिमनास्टिक चैम्पियन बने राफे (17:20)
पुणे, 9 जनवरी (आईएएनएस)| मोहम्मद राफे ने अपने बड़े भाई मोहम्मद अनस के पदचिन्हों पर चलते हुए मंगलवार को खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2019 (केआईवाईजी) में लड़कों के यू-17 वर्ग का खिताब जीता।

जहां 40 की उम्र में आता है बुढ़ापा (With Images) (08:30)
कुशल चोपड़ा
बीजापुर छत्तीसगढ़, 9 जनवरी (आईएएनएस/वीएनएस)। 'रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून..' रहीम की ये पंक्ति पानी की महत्ता को दर्शा रही है कि यदि पानी नहीं रहेगा तो कुछ भी नहीं रहेगा, लेकिन जब पानी अमृत के बजाय जहर बन जाए तो पूरा जीवन अपंगता की ओर बढ़ चलता है। यह कोई कहानी नहीं बल्कि हकीकत है।

तेजाब हमले से उबरकर प्रज्ञा बनी अन्य पीड़ितों की तारणहार (आईएएनएस विशेष) (18:41) IANS Photo Service
भावना अकेला
बेंगलुरू, 6 जनवरी (आईएएनएस)| बारह साल पहले एक पागल एकतरफा प्रेमी ने प्रज्ञा सिंह पर एक रेल यात्रा के दौरान तेजाब फेंक दिया था। वह अप्रैल 2006 में उत्तर प्रदेश के अपने गृहनगर वाराणसी से दिल्ली जा रही थीं। आज वह तेजाब के जख्म से पीड़ित ऐसी लड़कियों के लिए उम्मीद की नई रोशनी बन चुकी हैं। मजबूत इरादों वाली प्रज्ञा ने तेजाब हमले का शिकार बनी करीब 200 महिलाओं की मदद की है। प्रज्ञा ने इन पीड़िताओं की 300 सर्जरी मुफ्त करवाई और उनको कानूनी व वित्तीच मदद करने के साथ-साथ उन्हें नौकरियां दिलवाकर दोबारा उनकी जिंदगी संवारी है।

बुंदेलखंड के विकास का सपना टूट गया! (With Images) (10:59)
संदीप पौराणिक
छतरपुर, 6 जनवरी (आईएएनएस)| बुंदेलखंड के लिए नेशनल थर्मल पावर (एनटीपीसी) का सुपर थर्मल पावर स्टेशन लगाने का अभियान थम जाने के कारण इस इलाके के लोगों के विकास का सपना टूट गया। इस इलाके के हजारों परिवारों ने इस संयंत्र के बाद अपने जीवन में भी खुशहाली का सपना संजोया था, मगर सरकार की नीति और नीयत ने सपने को काले अध्याय में बदल दिया।

लेट्सएमडी ने लांच किया मेडिकल पेमेंट कार्ड (09:48)
संजीव स्नेही
नोएडा, 6 जनवरी (आईएएनएस)| लेट्स एमडी ने क्रेडिट कार्ड की तर्ज पर अस्पताल में मेडिकल बिलों का भुगतान करने के लिए मेडिकल पेमेंट कार्ड लांच किया है। इस कार्ड से भुगतान पर करने पर 18 ईएमआई में बिना किसी ब्याज के भुगतान किया जा सकता है।

जब उसे बीच सड़क मार डाला गया (सफदर हाशमी शहादत दिवस : 2 जनवरी) (19:48)
रीतू तोमर
आज से 30 साल पहले पहली जनवरी, 1989 को साहिबाबाद में नुक्कड़ नाटक करते समय उस पर हमला किया गया। अगले दिन उसने दम तोड़ दिया। उसे इसलिए मार डाला गया, क्योंकि वह दबे-कुचले लोगों की आवाज बन गया था। नाटकों के जरिए लोगों में जागरूकता ला रहा था। वह महज 34 साल का था। वह कोई और नहीं, सफदर हाशमी था, जिसे उसके मूल्यों की खातिर सरेआम सजा मिली। उन मूल्यों की सजा, जिनके लिए वह सारी जिंदगी लड़ता रहा।

कश्मीर में सेना और यूपी में पुलिस पर पत्थरबाजी? (19:46)
प्रभुनाथ शुक्ल
लोकतंत्र में हमारे अधिकार हिंसक क्यों बन रहे हैं। हम संविधान उसके विधान और व्यवस्था को हाथ में लेकर खुद न्यायी क्यों बनना चाहते हैं। संविधान में लोकतांत्रिक ढंग से अपनी बात रखने की पूरी आजादी है। हर वह व्यक्ति, संस्था, समूह, दल और संगठन अपनी बात वैचारिक रूप से रख सकता है। यह लोकतांत्रिक तरीके से शांतिपूर्ण प्रदर्शन के जरिए भी हो सकता है।

भारत में नववर्ष मनाने के दिलचस्प अंदाज (17:46)
योगेश कुमार गोयल
दुनिया भर में नववर्ष का स्वागत बड़ी धूमधाम, उमंग और उल्लास के साथ किया जाता है। अनेक देशों में नववर्ष से जुड़ी अपनी-अपनी परम्पराएं हैं। हमारे देश के विभिन्न प्रांतों में भी नववर्ष का स्वागत अलग-अलग तरीके से किया जाता है लेकिन कई जगह नव वर्ष मनाने की परम्पराएं और रीति-रिवाज इतने विचित्र हैं कि लोग उनके बारे में जानकर आश्चर्यचकित हो जाते हैं। संभवत: दुनिया भर में भारत ही एकमात्र ऐसा देश है, जहां नव वर्ष एक से अधिक बार और विविध रूपों में मनाया जाता है।

शिक्षा के बदले मौत को क्यों गले लगा रहे कोटा के छात्र? (17:40)
रमेश सर्राफ धमोरा
राजस्थान के कोटा शहर के लिए दिसंबर का महीना अशुभ शाबित हुआ। बीते एक माह में यहां कोचिंग कर रहे चार छात्रों ने आत्महत्या कर ली। कोटा शहर गत कई वर्षो से कोचिंग कर रहे छात्रों द्वारा आत्महत्या किए जाने से देश भर में चर्चा का विषय रहा है लेकिन एक माह में ही चार छात्रों द्वारा जान देने की घटना ने सोचने पर मजबूर कर दिया कि आखिर यह आत्महत्या करने का अन्तहीन सिलसिला कहां जाकर रुकेगा।

टीवी कलाकारों का बेहतरी, कड़ी मेहनत का संकल्प (15:41) IANS Photo Service
मुंबई, 31 दिसम्बर (आईएएनएस)| नमिश तनेजा और अबीर सोफी जैसे टेलीविजन कलाकारों का कहना है कि आगामी वर्ष में उनकी कड़ी मेहनत करने और बेहतरी पर ध्यान केंद्रित करने की योजना है।

ड्राइविंग स्कूल से महिलाओं को लगे पंख (आईएएनएस विशेष) (19:24) IANS Photo Service
ब्रिज खंडेलवाल
मथुरा/आगरा, 30 दिसम्बर (आईएएनएस)| मुगलों के ऐतिहासिक शहर आगरा में आजकल भीड़भाड़ वाले किसी चौराहे पर अक्सर दोपहिया वाहनों पर सवार अनेक महिलाएं दिखती हैं, जिनमें न सिर्फ युवतियां बल्कि गृहणियों समेत अधेड़ उम्र की महिलाएं भी होती हैं। ये महिलाएं अब खुद दोपहिया वाहन चलाने का लुत्फ उठाती हैं और पूरी आजादी से घूमती हैं।

उप्र : आवारा मवेशी लोगों की सुरक्षा, फसलों के लिए खतरा (22:01)
मथुरा, 29 दिसम्बर (आईएएनएस)| आगरा के कई जिलों में गाएं और बैलें आम जनता की सुरक्षा के बहुत बड़ा खतरा बन चुके हैं।

जिनका अपना कोई नहीं, उनका भी है हक! (With Images) (12:32)
अनुजा बंसल
नई दिल्ली, 29 दिसंबर (आईएएनएस)| दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला ने कहा था, "सुरक्षा और बचाव अनायास मिलने की चीज नहीं है, बल्कि इस दिशा में आम सहमति और सार्वजनिक निवेश के साथ काम करने से ये परिणाम मिलते हंै। इसलिए यह हमारी जिम्मेदारी है कि बच्चों को, जो समाज के सबसे कमजोर नागरिक होते हैं उन्हें हिंसा और भय मुक्त जीवन दें।"

लोकगीतों को पतन की ओर जाने से बचाना होगा : रंजना झा (साक्षात्कार) (With Images) (19:12)
रीतू तोमर
नई दिल्ली, 27 दिसंबर (आईएएनएस)| लोकगीत वे हैं, जो पारंपरिकता के साथ गाए जाएं, जिसमें संस्कृति की खुशबू रची-बसी हो, लेकिन आजकल लोकगीतों को जिस तरह गाया जा रहा है, क्या वह लोकगायन की कसौटी पर खरा उतरता है? मैथिली लोकगीतों की चर्चित गायिका रंजना झा तो मानती हैं, बिल्कुल नहीं। वह कहती हैं कि लोकगीतों को पतन की ओर ले जाया जा रहा है, इसे बचाना होगा।

बिहार की राजनीति में दोस्त बने दुश्मन, दुश्मन हो गए दोस्त (पुनरावलोकन : 2018) (08:33)
मनोज पाठक
पटना, 26 दिसंबर (आईएएनएस)| बिहार में गुजरा वर्ष राजनीतिक उठाक-पटक के रूप में याद किया जाएगा। साल के शुरुआत से नए सियासी समीकरण बनने-बिगड़ने का खेल साल के अंत तक जारी रहा, जिस कारण पुराने सियासी दोस्त दुश्मन बन गए, जबकि कई सियासी दुश्मन गलबहिया देते नजर आ रहे हैं। ऐसे में गुजरे वर्ष के सियासी समीकरणों ने देश में भी सुर्खियां बनीं।

विशेष

और भी है

सदस्यता लें

IANS Photo